Subscribe now to get Free Girls!

Do you want Us to send all the new sex stories directly to your Email? Then,Please Subscribe to indianXXXstories. Its 100% FREE

An email will be sent to confirm your subscription. Please click activate to start masturbating!

भाभी और बहन के साथ सेक्स

मैं दिल्ली से पवन हूं। मेरा 20 साल का हू। अपना मुख्य अपन्ना हाथ यौन उत्पीड़न आप
सबके साथ बथने जा राहा हू.मेरे परिवार का मुख्य सार्फ पांच सदस्य है।
भाई, भाभी जिन्कि अब सादी के सरफ एक सौ हू है, मेरी बहन सोपे जो कि 16 साल
क्या है और केवल पिता जो क्या काम से हमेश बाहृ है रहीं हैं। मुख्य बिंदु पर आटा
हू।
मेरी भाभी सोनगी जिन्कि उमर सलाद मुझसे भी काम है कि आकर्षक दिखे हैं और
सीधा यूसेज भी जेदा डोनो के साथ सेक्स कर का मेरे मुहम्मद ख़याल आते हैं
दत्त था।

गारि का मौसम था। बाई कार्यालय गौ हू द अौर बहन स्कूल। माँ और मेरी भाभी
घर माई एके थे.माइइन कंप्यूटर पर कुछ काम कर रहना है तो ताहिरी घर आने
लैगई और बोली की पावान जा दिधे ले ए.एफ़िर मुख्य दुध लेन चाला गया .. थोरि डर बाब
एके बोलाभाभी दूध ख़ात्मा हो गया है इज़लीए नहीं मिला। बाह्बी: ओह मेरे ची बानी
थी थीं कोई बात नहीं.फिर मुख्य कंप्यूटर पे अपना काम करने वाला गया था।

Thori der baad भाभी आयी और बोली लो चाई पाई लो। चाई देख कर मुख्य चॉक
गया, चाय दुध वाली थी। मैने पूच्छा भाभी दूध पहल से था क्या.भाभी बोली
नहीं। मैने बोला फ़िर दुध वाली चाय?
भाभी: बस दिन मिल गया
मैने समझा नही था और मुख्य जरबुद्दी पाउने लागा से भाभी बोसी केसी को
बोलेगा नह?
मैने: नहीं भाभी आप को बोलो
भाभी: हैं माई आरुरत हुआ और केवल पास हमेश दुध रह है
मेन: matlab
भाभी: आर्यत अपन बाचो को दुध कहो से यात्री है।
मैने: भाभी आप मुझे अपना दूध राही हू! मुख्य नहीं पींग्गा
भाभी: क्यू स्वाद क्या कभी नहीं है क्या! तुमरे भाई कहां है कि बहत मिठ है
और मैट से किटनी बार में दुध से चाय बनई है।
मुझे कुछ समाज मुख्य नहीं था आ रहा था माई क्या बोलू
भाभी: क्या हुआ सारा गेके?
मैने: भाभी आप आप को नहीं करती हू।


भाभी: हां और तुम टू बाड़ सेचा का काम कर हू हमेश मेरा पेंटी बारबड़ करे।
क्या!
भोले मट बानो मैने ख़ुदा तुझ आँखे है कि मेरी पेंटी को सूर्य की के मुथ मारे हो
और फिर ही ही पटि से अपना क्रीम जीरा डिटे हो
मुख्य सार के मारे पानी की पानी हो गया और मेरे कुछ बहुत पसंद नहीं आ रहा था कि
क्या उत्तर डू
भाभी: क्या हुआ मुख्य सब लोग हैं कि तुम तुझे हम्मा मेहर बरी मुख्य सोते रहते हैं हू। बोलो
क्या मुख्य गलति बोले हैं हू?

मैने कुछ जवाब नही दिये.लोकिन भाभी ख़ुली ​​गायई थी।
भाभी: हैं डाट कू हो जीस तारह ​​तम मुझे देख कर पगले हो गेके हो यूई तार
मैने जब से तुझे लन्ड दीखा है टैब से सरफ टुमरे नंगे मेहनत तो सोचिती हू।
तु सूर्य कार को मानो मुझ मुख्य एक नया जोश एयायरा जाट से भाभी का हाथ पकर
के बोलाभाई मुख्य सैक मुख्य आंखों को देख पागल हो गया हू, कृपया मेरे सर्फ एक
मौका दीजी

ठाक है पर कैसी को पाने नहीं हलना होती है।
मैनेभाई को भी मुख्य मुख्य ल्या और कह नहीं पाटा चलेगा, फिर मैने अपना हौथ
अनके हौथ बराबर दीया और 5 मिनट तक चुम्बन करारा राहा.फिर मैने अनके गैल और इधर
उधर किस कारना सूरू की और अपना हैना चचें पर रक्षा दीया और जर से मस्लता
अभी.भाभी भी है सब पूर है सह से होती है और पूर मजा ले राही थीं।
तभी दरवज की बेल बजे हुई है। ताम्हां मुंह हू और मैने गेट फाटक द्वार
गया दिखे की चीएई हुई है।
और हम हा हम भाभी याही इतने हैं कि हम हैं मौके मील.साम को भाईआये
और अगर है तो मेरे कार्यालय से काम से बंगलौर जाने हैं। 4-5 दिन मुख्य लूत
आउंगा.ये सूरज के लिए आदमी हाय आदमी मात्र कुशी का थिकाना नहीं था.फिर लगबग 10 बजते हैं
मुख्य भाई को हवाई अड्डे से चोर कर आये.खाना भैया के साथ ही खा लिया था तो
डायरेक्ट हू सब स्ने चले गेए। मेरे लिए नंद कहां एक होती थी।
था की भाई का कमरा मुख्य चले जौ पर हीमटम नहीं हो रहा था कि क्या ऐसा लगता है
देख ले

तब्बी मुख्य मुथ मार्ने बाथरूम मुख्य जावा नेगा। बाथरूम के दरवाजे मुख्य हमारा
ताला खारब था आईएसएलई वो हामेश खला है जहां है। मैने जाट हाय का उपयोग खला और
औरार का नज़र देख कर मुख्य पाल हो गया.एन्डर एक एजीबो टाइप का लक्करी ले
कार अपन चट मुख्य उपयोग औरर बहार कर राही थीं। सुखी बैंड थी थीं उपयोग पटा
भी नहीं चाला की मुख्य उपयोग में देख रहा है। मैं देख कर मेरा 9 इंच का लुंड तन कर
ख़ाँ हो गया.और मात्र लुंगी से बारह बन्ने हैं काना बेटा होन लैगा.इने मुख्य रूप से
अखा खोली और मेरे बताते हुए देखे चक गेइ। मैने जाट से बिनकुप पूची प्रयोग
बहो मुख्य पकर कर खोली बजती है मुझे मेरे रोक्ना चटनी।
चुंबन के लिए जाना और एक ही है से यूस्की चुची दबाने वाला। कौरी चुची होने के कर्जन
वो सोनी के मोकेबल कफी तंग थी। सीता भी स्वयं आप को चुराणे की कोसिस नहीं है और
मेरा सथ दिने लगी.फ़ीर मेन नेके शर्ट को खोले दीजिये अब सेफ साइफ आफ़ ब्रेफ मि
Thi.use apni pant aur panty pahle se kholi hui thi.phir maain wahi baatai ​​mai!
एन लीटाय और उकेच चुचि को चूने लागा.फिर मेन मैके शुद्ध सरीर को चुंबन की और
है से साहहत राहा.उसे कफी मजा एक कहां थीं। माफी अपनी जानी उतार और अपना
लुंगी खोले दीया और प्रयोग लन्दन चुसने को कहां पहले टू वो मन की पार मुझे जद कर्ने
के बाब वो मान गई लन्दन चुसवाना मेरे बहोत अचरा लग्राहे था। फ़िर मेन मैके
लेग के बाईच मुख्य बथ कर अपने हीओ से यूके चुट को सहलाया और फ़िर का उपयोग करें चैट
लैगा.सुई भी अपनी चट चटवाना बहत अचाचा लग गई

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.