सेक्स का इंटीज़र

0
53
loading...

मुझ पर हमारी अनजान से मेरा छोने का अहसास हुआ, बिल्कुल हलाके से, जेल से मैं कौन हूं वह अभी नहीं है, लेकिन फिर भी जाये मेरी आतम को छुू रहा है।

ऐस लीग रहीं था कि हर बार जब उनकी अनलगियान मुह्छितिये, मात्र पेअर ख़ुद-ब-खद थोडा सच ख़ल जाट। मुझ में अहसास हो गया था कि मुख्य अपना बदनाम उकि तारफ राधा थी, उस्की तारफ अपनी ख़ुली ​​हुई छुठ बाट राही थी की जा मेरे मुझको दिनाना है।

वो मुझ बिऱर चुहो रहे थे और मुख्य अपने आप को उक्कि तराफ बदखा थी थी, हमे चोने की ख़्वाहिश मुजुम दाद राही थी, यूस्की छूण की ताड़प मुजम अग लग गया राही थी।

मेरे हाथ एक रस्योन को चुनने वाले वे जिन से वो पलंग के कोन का बंदे हुए थे। मेरी आँखों पर पट्टी बन्दी हुई थी जस्से नेहेले से मुख्य रोशनी के लिए थे राखी थी, लेकिन मुझ कुखे नज़ नहीं भी आ रहा था। मेन ऐपेन पेर हीलें की कोशीश की लीकन एक रशीयन की ताकत की उम्र झुक गायई जिन जो वे बंद हैं सब कुच बुरा साक्टी से बंद होता था था। वो मुझ में तार बाँधे हैं, मैं तारिहों में बादामहिर था। मेरा ये पुत्रका के ये जूल जाल ही ख़त्म हो जाएगा, बादा घाट था।

मेरे हैंन्टन से एक के लिए निकले जब हमारे लोगों ने मेरे दोस्त से प्यार किया था, लेकिन मेरे साथ खादों की आवाज़ के लिए प्यार करता था, जो पलंग के आराफ चैलेंज लागा, दोसुर taraf अगर करने के लिए। मेन सोचेने की कोषिश की कि उकि अगली चलिए कही होइ, लेकिन मुझ पाप नाहि चाळ। हर बार वो मुझे चौंका दिया है, कुच नया कार्के। कभी भी पिले नहीं जया नाहता, लेकीन hamesha pichhli baar jaisa mujhe pagal कर jata tha।

मेर जिहेन में हमारे खदानों की क्या गॉन्ज राही थी, वो कामरे में हमारा प्यार और मेरे एक एक दराज खिलने की आवाज़ आयी। मेर दिल को ढाका कहां जब मेरे सों के वो ड्रेजर में से क्या निकल हो जाता है। हम अपने दिल में हमें दराज में दिखते हैं, रसीन, आँखों और चंद्र पर बाधन की पट्टियां हैं। और हम भी कुचसी चेझेइन भी थे से भी वो मुझ पर दाऊद को शक था, हलके से, याज मेरे पिता हैं। मुझ में एक बच्चा आइयां सुनीई दी की जईस वो कुच चीज डौंड रह गया था द ड्रॉवर आई। फ़िर वो ड्रेजर बैंड हो गया और वो मेरी मेर प्रेम वापास आ गया।

मैने अपी फिकर बाटने की कोशीश की का इस्तेमाल करते हैं मुख्य अपन बंदन से निकन की कोशीषरे थे, चदर निषेक मसल राही थी, अपन चहरा ताई पर घोड़ा राय थी कि शायद अण्णा पार की पट्टी थीड़ी सी नीली हो और हमारा मुख्य नजर पाण के हैं मेरे मायके क्या है। हमारे अपनी जबाबन से एक हल्कि सी आउज निकल, मैं तुम दुनिया की मुख्य ख़ॉमोस हो जानो और मुख्य चुपके से दोस्त भी हो

मेरी सैन्ससन के साथ मेरे देखा था ऊपर नेहे दिल था, वो पाप में खादा था, बिना हील। मैने अपना बदान palang से ghasne की कोषिश कि, मैं मेरे एक में थारहट सी है और मेरे आदमी का प्यार है जो अपने एहसास होता है और एक एक जोग पर मिल गया है, एक संग बराबर। मेरा बानून ख़ुद-ब-ख़ुद यूस्की तारफ यूथ गया की जाइज का मुख्य उपयोग यूस्की ख़ुशी के लिए अपनी एडीयन पेश की राय थी।

वही सेरे हैं, और केवल आत्राफ से चुन कर दोसौद ताराफ आया।

मैने अपनी अनग्लियान ख्लोई फेर कारा लीन एक रशीयन के आराफ जिन से ही हाथ बन्धे हुए और उन्होंने अपना मैने अपन आप को तसली दीने की कोषिश की। क्या इब्बासी में बहत आसन था अपना आप को खोओ मुझ में नहीं पाउण, इहसासन में खो जौन। लेकिन मैने अपनी कुफ्फ़ बकवास बचने की कोशीश की, के मुख्य ना हिंदु जाब कर के वो ये सोनच ना ली के वो ही साथ क्या करेगा।

मेरे डैब ह्यून्टन से एक पहुंच निकल, एक अहवा जो बिलकुल जैनवरन जैसी थी। मेरे चेहरे शर्म से लाल हो गया सूने का इस्तेमाल करते हैं हाय हाय मुझ बीलुल उमेत नहीं थी की आसा हो गया, बादा बच्चन हो गया, मेरे ख़ुद के लिए भी। मेरे दिमाग में यूके मुस्कुराता हुआ चेहर दखाई दीये, पट था कि उका मेला दिन पर गरीब गरीब खौब था।

कुच cheez मेरी twacha को चू समलैंगिक और मेरे बिल्कुल डांग reh gayee, takhreeban palang से uchhal gayee, सारा बदन uski taraf यूथ गया। हमारे चमड़े को मेरे पेते पार से नेहेगे खींचा, एक ही हाल्के से जगत में -जैसे की अगली अपनी अनग्लियॉन से लीया था। पोरी नेसे ले जने के बारे में फिर वाप मेरी पेठ पार से यूनेइन मेरी गार्डन पर ला दीया का उपयोग करें

मुख्य ने आप से ताल में डुबा डाया ले लो मेरे बगीचे पार और एच्के से छे खातिर। यूसेन वो छोटे छोटे चमड़े के तुकडन से मेरी गारदान पर गुडुंगे की, केवल चेचर पर एक मस्कीन आये, लेकिन फ़िर यूने वो हो लीया।

यूसेन ज़ोर से मुझ पर हमारे चमड़े के दांडे से मरारा, मुझ पर आजीवन आइये, लेकीन इटाना वक्ख्त नही ची मुख्य आप आप को हमारे प्यार से प्यार करते हैं। चमड़े की मेहनत को लगने के लिए एक ज़ोर की आवाज़ आइये और फिर भी मेरे जाने का मेरा गरीब का कूड़ा बुरा तो दिल से प्यार है। मेरे बदन में तेर-थरहाटिन होन लगी जब मुह्जे खाके हुए हैं कि आहायत आइये। वो पलंग के आँराफ से गूम कर दोसौरी ताराफ आ रहा था। मेरा दिमाग येई सोनन्ने में हुआ था था कि क्या वो कहने जगा था डोसरा कररेगा। मेरे बदन के लिए हर इंन्फ़ोरे से थार-थारा राघ वे हैं।

एक और अहज और है बार मीन पर। मुफ़े अपी छोथ की गारमाहट में एक हा लाका सा फरक मेहसूस हुआ वो गारि कुच और बदली, और मेरे आना बदनाम भारत के तार एक एक फर फरहया। मुझ्े उसकी इटनी जरूरत थी, मुख्य यूके लय ताड़प राय थी। मैने एक आवाज़ निकला, की जाये मेरे मुंह को चुनने के लिए हू। मेरे एक दादा के लिए इंतज़ार करते हैं, लेकिन जब हम चमड़े की लक्डी के बारे में सोचते हैं। मेन एक चेन की सैंस ली और मेरी जान में जान आइ है। मेरे फ़ेर से हमें ख्दमोन की आहत सुनीई दी और मैने अपन चेहऱा यूकी टैराफ की, लेकिन का उपयोग देख न ही सच्ची थी। मेरा हंटन से एक ही निकल जाब यूने अनलग से वो जाग को चुआ जाए जहां भी कुछ भी मेरे माता था। वाह थोड सा मोटा हो गया था और हमारी अपनी अनगली वो पारी जीगम पार साहलाइए। मेरा बानन फिर से यूके तारफ उथने लागा। यूस्की अनजलीयन जब मेरे दोस्त से से यूथ गेन टू मुज एक सार्ड सा अहसास हुआ। मुख्य पलंग पर वापास गिर पड़ी, मेरा बदाना उकी एक और छूण के लिए प्यार तुम्हारा था। मेरी छोथ कछी हो चुकी थी, रिलीज निकील कर नेसे की चादर की जीर होती है। मुख्य जब भी थोड़े सा हिल्ती को मुझ से वो जेलपन मेहसूस हो रहा था। वो जीलापन हां एक देश में गम्मी पद्दा कर रहना है, और मेरे दिल में मेरा प्यार था, मेरी प्रेम मुझे, मेरी चुन्त मुझे अपने प्यारी ख़ुश से प्यार हो रहा था। मेरे एपीएन जीलेपन की ख़ुशबू मुझ में एक होती थी। मुझे एक थंडी सी चीज का अहसास हुआ, जब मेरे साथ मेरे दोस्त थे। वो का इस्तेमाल करने वाले हाथों से मिलते हैं, और हमारा भी चीज का गोल वाल तोड़ा मात्र अंडर डाला। मैने अपन आप को palang पार से उठी दीया और कोशीष कि को वो मेरे और अपने दाल की। मेरे हंटन से आगाजिन निकल होती थी जब वो लुंड मेरी और निचली अकेली लीया। मैने अपन गोररे बुरान को संहला और अपना हाथ पलंग पर गियर समलैंगिक मुझ पर चलने वाले सुईई दीइ और यूने थे फिर से वो मेरे और दाल, बस थोड़े सा, और फिर निकल लीया। वो जीला सा लंड यूसेन केवल चिकन के ओपार सेहलाया, वो सारी जीली अवाज़िन मेरे कानों में गोन्गे रहती थी। यूसेन वो मुझे मुझ से प्यार करता था और मेरे दिल से निकल गया था। अब हमारे लिए क्या हुआ और मेरे दिल में आप ही मेरे दिल में पड़ी थी। मुख्य अपन अनलगियोन की मुनि बुन कर खोरे थी, पत्ते नहीं कि वो अब किस करेगा। मुझ वो वो ची थी, केवल अंडर। यूसे एक एकगुली से मेरी पीठ को चुआ, और वो अनलिली गरीब नेसे से ओपर ले गया। मुझ से ये बड़तायत के बहर हो रहा था, मैं चुट चहिये थी। “कृपया,” मैने का प्रयोग करो। “कृपया, अभी।” यूस्की इंगनलियन मुज पर से यूथ गायी और वो मुझे पीते आ गया। मीन अपन आप को उ ददान, कुएं बिलकुल पत्त होती है मुख्य उपयोग कैस लगी होती थी। मैने अपनी छाउत यूस्की तारफ बदहाई, के वो मुझे छुूए, केवल अंडर सिमा जाये। मुझ पर कापेदेर्ने की आवाज़ आयी। मेरे बहोत ख़्शी हैं कि जब मेरी सच्चाई की उम्र क्या हो जाए सारा पाल हेलन लागों जब वो हम पर चाड गया और मेरे ओपार आ गया; यूकेके हैथ मीन डोनो तारफ Muhje uska mota sa lund meri geeli chhooth par hone ka ehsaas hua.Main uski taraf hati ke woh mere aur aa jayee वो वापस हैट गया, मेरा सत्ताने कगा, और हल्काने से अपन लुंड से मेरी छोथ को माड़ा। उस्का लन्ड मुझ मेरे हाथों और हमारा मुख्य दोस्त हैं, आपी चुहूँ से मलें लगी। यूसेन फिर अप लुंड मेरी और दाल का उपयोग करें, गरीब का गरीब मुझे बन्ने के और खींचे दाय। मेरी हंटन से एक चेहरे निकल गेजी जब मेरे मुंह में दवाई, उस्का मोटा लन्दर मेरी जीली चुहूं में आराम से आगे पेकेहेले हैं और मेरी मरी साईंसेन टेज़ हून लीगी। मैन यूके के साथ साहेथ के साथ ही ऐसा हो रहा था। हमरे बचन पसेन से जीले हो चिले। मेरे दोस्त मेरे दिल में एक बहुत ही अच्छे थे जब मैं पूरी तरह से मेरे दोस्त से प्यार करता था। मेरे हाथ में थार-थोरैने लेज, ऐसा लग गया था कि पूरी तरह से मेरे दोस्त से पूछा। मेरा सरे बानक़़ेे नेहे दिल रज़ा था मुझे मेरी मुट्ठी मिली। वैसे तो और ज़ोर से भीर हेलन लागा, और मेरे दोस्त भी और भी नजुक हो तुम, हर छोटी सी जगत पर मुख्य मेहसों के साथ थी, जहां भी वो मुझे छुू रहना था। मुझ्े उसकी सनीसेन सूनी द रही थी, तज़ होती हुई और फिर उके हिला एकदम से बैंड हो गया। उस्का मोटा लन्द मनिअर मुझ मेरे मेहसस हो गया था और फिर मेरे दोस्त थे भैयापन अपन और चुटने का अहसास हुआ। मैने मेरी छोथ यूके लन्दन के आराफ लापते ली, और सब कुम्ह्मेत से निकल लीया। सिर्फ मुझे मेरे एक ही- देह ऑल ही निकल, उका बदान थार-थाराण बड़ हैं और वो मुझे छोड़ दिया गया था। मीरी साईं भी कभी ते कभी नहीं थी और जब वो मेरी आंधी से अपन लुंड निकल गया था तो मैने अपनी चुहूं के अराफ बैंड करली, और ज़ोर से निकोन्ने के लिए। मैने अपना बदनाम उक्की तारफ उदय। मैं नहीं चाहता हूं कि मैं अपना अपन लुंड मेरी मेरी आँख लगा सकती हूँ। “मुझ थेंडे पानी से नाहना है,” हम देखिए से कहने में कहो। “फिर हम wapas shuru kareinge।” “हैक है,” मैने कप, palang पर रात से apne आप को जमैट रंग। मेरा बच्न waise hi intezaar mein bechain thar-tharaata riaha और वो काम से प्यार चाला गया। मैने अपी आनन्मोन पर कि पट्टी के और ही ऊर्फ अंचन बैंड कार ली और सुंच लगी है वो क्या कुछ करेगा।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here