सलमा ko बाप ne Choda

0
2736

दोस्ती.ये कहानी मेरी अपनी और सच है है अगर
आप लॉगऑन को पंसद आये तु मुझे ईमेल कर सकते हैं आपका ईमेल पता
सलमा बेगम से मेरे निजम की बेटी का नाम है है वो यूके की उम्र 27 साल है वो गोरि है और उके गांड
चौरा और बर है उस्का हाईट 5 एफ 3इंचकी है और कोचरी बाररी है जो वू मेरी बेटी
नजमा की साहेल है नजमा की उम्र 25 साल की है उज्ज रंग वाली है चूनर गोल और
बारा है और चुनोही भी बाड़ है। आज से 20 दिन पहले तोड़ने में रात को बूस माई
और मेरली लादिकी नजमा ख़ान हैं जहां के मुख्य डोर का घंटी बाना है माई जाकर
द्वारवा खोल्त हो तुझे मेरे दोस्त निजम में खारा था और मेरे हाथ में कुच
सामान में माई का प्रयोग और हरि के लिए लिया गया और हन अब दरवजा बैंड कार्डता हां
औरर बेकर नाझमा के बगल मेरे साथ जाने हैं और भी हैं भी जाते हैं मान और निजाम
से खैरट मालोम कर्ता हां और उपयोग खान के लिए कहता हूं वहीं हो सकता है
हां अरे!

मेरा आदमी नजमा को चोन्ने का कर रहना है प्यार चलिए आना। नजमा कहति नजमा चा
चा आँच होआ आप अगै मइ आदमी हाय आदमी मुझे आप को या भी तुम्हारी भी होती है
दिल चोन्ने कर रहना है कि कोंकि आज मेरा बड़ बाहरी गरम है आज दिन से ही
बरी मुझे ख़ुजली हो राही है और मेरे डोनो कोची सुरसोरा राही है आैज माई तू डोनो
से खोव चौदोंगी और तुम्हा काल और अधिक लौरा भी मेरे बहुत पास है और
मात्र बाप का भी मट्ट और लंबा लौरा बहत अच्छा है। एनआईजम मुझसे कहता है तेरा
किया ईरादा है। मी खाता हां जांब तुम डोओ रज़े हो तो तू मेरी थी और सता हो
है लेकिन पहल ख़ान ख़ाल। दो कहता हैं ले ख़ान के साथ विस्सी भी पेशे खड़े हैं
का मजा मिल्गा। नजमा किशोर कांच मुझे विस्की बनती है और हम लोग खाने के साथ हैं
विस्की भी पेते हैं और थोरि डर मेरे हम लॉगून को नास हर कुछ है और माई
खाणे के बरतन वेगाइरा को साफ कर्डटा हन। नजमा निज़ाम के भूमि को पैमामा की
ओपर से साहना सुरु कराती है। एनआईजम अपा पाजमा को को खोले हैं है और अपन
पंजाबी आउ!
आर बोनियन को भी उतार केर नंगा होजत है हमें वक़्त निजाम का म्यूट!
एक और कला लौरा तन्ना हुआ था। दो नजमा को भी खार करके सबके साथ आए थे
विदित हो वो भी लंगटी हो जाति है। तब माई भी अपना कफ्रॉन को उतारकर नंगा होजता
हन और नजमा के पास वाले हैं हॉकर यूके नंगे चुचर को सहलाता हो। नजमा निजाम
के भूमि को मसल्ती है। गौर नजम हमें के बाल को पर्ककर यूके होंठ और कोचो को
Choosta है। नजमा नजमा अपन घोतो के बाल बाथ केर अपन गोल और मोटे चुटर
को मरे taraf kardeti है uski dono बारी choochi latki huyee thi.mai peechhe से
यूके चुस्टर को फाईल दिता हन और यूके बुर को चुसने लगते हैं। दो एपन मी से
अवाज निकलती है अहिह्याहृह्ह्ह्ह्ह्ह्हसिसस्सासस और कहता है है और भी इससे
मेरा बर्ग चुनोज़ा पिता मुझे बेहद अच्छे लग रहे हैं और मेरे निजम का भूमि पक्काकर
चुसने लगती है और मुम से वोहन्नन एनएनएनएन एनएनएन एन्ह्हह की आह्वनि निकलती है और अपन
चुटोर कोमेरे मुमरे रागती हैं। मै भी बचे मुझे ओंगली डल्लर और बोर कर्ता मान
और उस गेद की चीज जीप से चैट टा हाऊ वो कहती और चेतॉन पापा बाट मैजा मिल
अभी तक है और!
केवल बुरे को चुनकर सिठा बानो और फर दालो मेरा बोर। नजम हमे मुझे मेरे एपीना
कला लौरा घसरते हैं जहां तक ​​आंड रण्डी हू लॉग ज़ाओर तेरा बूर हू लॉग फ़ारेजेज़
और हमारे लड़के को पक्कर ने मुझे मेरी लौरा को और भीतरी कर दिया है। दो भी मास्टी
मुझे लौरा चुनोती है। नायज़म का प्रयोग चोदन चला है। मागर वो ख़री हैती है और
कस्ती है या नहीं नहीं बिस्तर कमरे में चलो वाह थीच से कोकाइयी होजी और बाड़ा माज़ा
मीलेगा.आब हम डोनो भी खरी हैं हॉकर यूएसकी कोच्ची को मसलते हैं और नजम का उपयोग करें
ईश्वर मे उथ के किरदार के कमरे में क्या taraf जता है और भी भी जाते hon.aur jaise hi mai
बेडरूम का दरवाजा खोल्त हो तू नीज़ा की आंखें फटा की फाति जहांता है और वू
नजमा को चोर दिये है और चिलने गैरेज लग्ता हैं और हमारी है तुम हो
अभी हाई.क्योंकि हम वक्ता निज़ाम की बेटी सलमा को नीतीशगरवाल कुत्ते शैली की शैली
पीतेखे फ़ेफक चोड राघट और चंदे जीत याददास के सलामा के मु को चोड
छोड़ और निजम की बेटी का बदला थारहाह था और मेरे मुंह से आवाज़ निकल
रायथी बापरे हैं!
मेरी ब्रेड फाट रहीं है वो वोहह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह मेरा पालतू मुझे लौरा चट घुसाओ!
माई मर जौओंगी अहा वोह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह.निटिश यूके चुटर प्रति अकीर जर्का थापर मार्टा
है और कहता चुप रैंडी हरामी चिकमाराणी सली रैंडी आज तेरा बोर को भोंसरा
बानाडेंज बरी मरनी रैंडी वू चिखाने लैगी है टैब यद्यपि अपना पुरा लौरा यूके म्यू
मुझे गौसर दिता है जईस्की वाजा से उसके आंखों को आजतक है और हमे मुजू से
आवाज़ निकलती है। दोहन, एनएनएनहिन्हाह, एहएनएनएन एनएन वॉनह्ह्ह्वाहिह, एनएसएनएन एनएनएन, एबी नुज्म
से बारदस्त नहीं होते हैं और वो गली बक्के लोगता है और कहता हूं बाहूत हारामी
है तो तुम मेरे बेटी को हो, तुम चुप रहो हो तुम मेरे लोगो को चुराओगा
तेरा माँ का हर हरमी.वैक वक्छत याद है, जहां है है और सलमा के मुंह अपन चोर
दिता है जईस वो पेशाती है, जो नाइट्स भी सलमा को फाक़ाक़ चोदते हैं एपीना
पाणि हम के बोर मुझे चोर दिता है। सलमा थारर कन्प रहती और हांप
रहिथी.इधर निजाम गली बेक जारहथ। नाबामा बगल मुझे खाड़ी थी और कहती
है के केन हो चचा हरियाई जबा तू बहार दोसरे की और बीवी को चुटका है टैब
तू मुझ मजा आता है और!


जब तेरी बेटी को कोइी च odt hai tu tjhai bur lagt hai haraamy bhaw.nizamchhikhnai lagt hai.tab nitish uthkair nizam kai gaal pair aik zordar ka thapair martahai aur uskai baal ko pakarkair salm kai chhoot kai paas uskai mu ko lai jaakair usai laichhoos haramy tu apni baiti kai bur ko aur tu apni hi baiti ko chhodaig aur tair gaandmaroong tair ma ka bur sal chhoos bharw.nizam inkar kartahai.tab yadav uskaipasli aik ghoss mart hai aur wo apni baiti salam ko chhodn surookardaitahai.nitish kaht hai tu apni baitiki chhoochhi masal kai saal.wo salm kichhoochhi ko masalkair chhodt hai.ab nitish apnai land ko nazm sai chhooswat hai aur usk land khar ho jat hai ab wo apnai pair thook lagakair gill kar dait hai aurachhanak nizam kai gaand mai apn laur ghusair dait hai jiski waj sai nizam ki chhhikhnikal jati hai dono baap baiti chhillatihai ahhhhhwohhhhhhhhiaraihhhhhhhhhhiiiiiiiiiiiwohhhhhhhhhiii aihhhhhhhhhhhhahhhhhhhhhh laikin soonai walakoiyaiai nahi th.is tarhasai nizam apni baiti ko chhodt ha!i aur nitish us kai gaand mart hai mai salm kai mu mai apn laur daikair !uskai mu ko chhodt hon aur yadav mairi baiti nazm ko chhodt hai is tarh sai raat bharoon dono ladkion ki chhodai hoti hai aur nizam ki bhi gaand mari jati hai.yai storyaap logoon ko kaisi lagi mujhai zaror aimail karn.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.